भारतीय बोर्ड ने कहा- अगर ब्रिस्बेन में टेस्ट खेलना है तो सख्त क्वारैंटाइन नियमों से प्लेयर्स को छूट दें

1 month ago 15

ऑस्ट्रेलिया गई टीम इंडिया के प्लेयर्स सख्त कोरोना नियमों से तंग आ चुके हैं और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) भी उनकी इस परेशानी को समझ रहा है। BCCI ने यही बात ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट बोर्ड (CA) को चिट्ठी लिखकर स्पष्ट कर दी है। बोर्ड ने CA से कहा है कि अगर ब्रिस्बेन में चौथा टेस्ट खेलना है तो इंडियन प्लेयर्स को सख्त क्वारैंटाइन नियमों से छूट देनी होगी। चौथा टेस्ट 15 जनवरी से खेला जाएगा।

ब्रिस्बेन ऑस्ट्रेलिया के क्वींसलैंड प्रांत में है। वहां के प्रोटोकॉल के मुताबिक, टीम के प्लेयर्स को क्वारैंटाइन के दौरान एक फ्लोर पर खिलाड़ियों से ही मिलने की इजाजत होगी। प्लेयर्स दूसरे फ्लोर पर नहीं जा सकते। मेडिकल टीम को भी एक फ्लोर से दूसरे फ्लोर पर जाने की इजाजत नहीं होगी।

BCCI ने CA को दौरे से पहले हुआ समझौता याद दिलाया

BCCI के अधिकारी ने गुरुवार को CA के हेड अर्ल एडिंग को टूर से पहले साइन किया गया समझौता याद दिलाया, जिसमें सख्त नियमों को 2 बार मानने जैसी कोई बात नहीं कही गई थी। अधिकारी ने न्यूज एजेंसी को बताया कि CA से बात की जा रही है। उन्हें टीम इंडिया के खिलाड़ियों को रिलेक्सेशन देने के लिए कहा गया है। अगर सीरीज पूरी करनी है, तो उन्हें इसे मंजूर करना ही होगा। टीम इंडिया ने पहले ही सिडनी में सख्त क्वारैंटाइन प्रोटोकॉल का पालन कर लिया है। अब ब्रिस्बेन में ऐसा करने की क्या जरूरत?

CA को लिखी चिट्ठी में BCCI की शर्तें

एक-दूसरे से मिलने की इजाजत मिले: बोर्ड ने कहा कि खिलाड़ियों को होटल में एक-दूसरे के कमरे में जाने की इजाजत दी जानी चाहिए। IPL में भी इसे फॉलो किया गया था। इसके साथ ही उन्हें एक-दूसरे के साथ खाना खाने और टीम मीटिंग करने की इजाजत भी दी जानी चाहिए।

IPL स्टाइल में होना चाहिए बायो-बबल: अधिकारी ने बताया कि टीम इंडिया IPL स्टाइल में बायो-बबल चाहती है। सिडनी में खेले जा रहे मौजूदा टेस्ट में क्वारैंटाइन नियमों के मुताबिक, भारतीय खिलाड़ियों को मैच के बाद सीधे होटल जाना होता है। अब CA इस नियम में छूट दे और लिखकर हामी भरे।

IPL के बाद सख्त क्वारैंटाइन में थी टीम
IPL के बाद UAE से सिडनी पहुंची टीम इंडिया को उस वक्त भी सख्त क्वारैंटाइन नियमों का पालन करना पड़ा था। टीम के खिलाड़ियों को एक-दूसरे के कमरे में जाने की इजाजत तक नहीं दी गई थी। इसकी निगरानी के लिए फ्लोर पर सिक्योरिटी ऑफिसर तैनात किए गए थे।

BCCI ने कहा था- चिड़ियाघर के जानवरों की तरह बर्ताव हो रहा

ब्रिस्बेन टेस्ट पर टीम इंडिया के कप्तान अजिंक्य रहाणे ने कहा था कि बोर्ड और मैनेजमेंट इस पर फैसला लेगा। उन्होंने कहा था कि सिडनी में प्लेयर्स को सख्त कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करना पड़ रहा है, जबकि बाहर आम जीवन काफी सामान्य है।

BCCI के एक अधिकारी ने क्रिकेट वेबसाइट क्रिक बज को बताया था कि टीम इंडिया के प्लेयर्स चिड़ियाघर में रखे गए जानवरों की तरह किए जा रहे बर्ताव से परेशान हो चुके हैं। उन्होंने कहा था कि यह अजीब बात है, 20 हजार दर्शकों को स्टेडियम में जाने की इजाजत है और खिलाड़ी क्वारैंटाइन हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today India Vs Australia Brisbane Test; BCCI Writes To Cricket Australia (CA) Over Quarantine rules